[100+] Beautiful Dosti Shayari in Hindi: दोस्ती का शायरी हिंदी माई 2021

dosti shayari wallpaper free download | shayari on dosti in hindi | dosti shayari images in hindi

Dosti Shayari in Hindi
सभी रिश्ता एक दिन खत्म हो जायेगा
मगर दोस्ती ही है जो मौत तक साथ निभाएगा

सभी रिश्ता एक दिन खत्म हो जायेगा
एक
दोस्ती ही है जो मौत तक साथ निभाएगा

Dosti Shayari in Hindi
दोस्ती दिखावे से नहीं 
एहसास से मज़बूत होती है

दोस्ती दिखावे से नहीं
एहसास से मज़बूत होती है

Dosti Shayari in Hindi
वो दोस्त दोस्त नहीं हो सकता
जो तुम्हारे काण्ड में खड़ा नहीं हो सकता

वो दोस्त दोस्त नहीं हो सकता
जो तुम्हारे काण्ड में खड़ा नहीं हो सकता

Dosti Shayari in Hindi

यहाँ फड़फड़ाते हैं फंदों में फँसे लोग,
मात्र मात्राओं में लिपटे रहे छंदों में फँसे लोग..
हम बेवकूफों संग बेवकूफियाँ कर सुलझ गए,
उलझे हैं आज भी अक़्लमंदों में फँसे लोग…

Dosti Shayari in Hindi

कुछ लोग पानी के भाव रक्त बेचा करते हैं,
चंदन के मोल में हर दरख़्त बेचा करते हैं,
वक्त खुदा है, सबको बदल देता है फिर भी,
ये घड़ी विक्रेता कम्पनी बना के वक्त बेचा करते हैं

Dosti Shayari in Hindi

दोस्ती में विश्वास जहां है
जिंदगी में हर पल खुशी वहां है

Dosti Shayari in Hindi

एक ही यार बनाया मैंने पूरी जिंदगी में
क्योंकि लाख यार भी मुसीबत के वक्त
काम नहीं आते हैं अगर याराना झूठा हो।

Dosti Shayari in Hindi

उसने ही तो बचाया है मुझे हर मुसीबत से
वहीं तो हर सुख-दुख में साथ खड़ा रहा
जिंदगी में रिश्ते कम ही कमाएं
लेकिन लाखों में एक यार से
बढ़कर एक यार मैंने पाएं।

Dosti Shayari in Hindi

हर बात पर टोकना
हर परीक्षा में एकसाथ
चीटिंग करना
टीचर से डांट खाना
एक तू ही तो साथ था मेरे।

Dosti Shayari in Hindi

हर नई चीज़ सही
लगती है
मगर दोस्त पुराने ही
अच्छे लगते है।

Dosti Shayari in Hindi

जब साथ कोई न‌ दे
तो हमें आवाज देना
दौड़कर चले आएंगे
और तुम्हारे सारी
परेशानियां दूर कर जाएंगे।

Dosti Shayari in Hindi

मुझे आज भी याद है कि
जब चवन्नी थी मेरे हाथ में
तब तूने अठन्नी देकर दोस्ती
का हाथ बढ़ाया था और आज
मैं ये करोड़ों की संपत्ति हमारी
दोस्ती के नाम करता हूं।

Dosti Shayari in Hindi

एक चाहत है तेरे साथ
जीने की ए-दोस्त
वरना मरना अकेले ही है
ये तो मुझे भी पता है।

Dosti Shayari in Hindi

तेरे साथ बिताए खुशी
के पल याद है
गर्मियों की छुट्टी में
पूरी दोपहर खेलना
नदी में गोते लगाने
सब सुनहरे पल आज
भी याद है।

Dosti Shayari in Hindi

दोस्त तो वो है
जो हमें लाख बुराईयां
देखने पर भी हमें
अपनाएं और
दूसरों के मुंह से हमारे
लिए लाख बुराई सुनने पर
उसका खून खोल जाएं।

Dosti Shayari in Hindi

सच्चा यार वहीं जो
पीठ पीछे भी वैसा हो
जैसा कि आपके सामने
वरना पीठ में खंजर घोपने वाले
तो बहुत यार मिले हैं।

Dosti Shayari in Hindi

ए खुदा अपनी अदालत में
मेरी ज़मानत रखना
मैं रहूं न रहूं
मेरे दोस्तों को सलामत
रखना।

Dosti Shayari in Hindi

गिरा दूंगा हर वो दीवार
जो हमारी दोस्ती के बीच आएगी
इस दोस्ती की उम्र ज़रा लम्बी है
साथ अभी बाकी है।

Dosti Shayari in Hindi

तू तो बिल्कुल नहीं बदला
आज भी वैसा ही पागल है
जैसे पहले था।

Dosti Shayari in Hindi

लिखा था आज राशि में
आज खजाना मिलेगा
गली से जब बाहर निकला
तो दोस्त पुराना मिल गया।

Dosti Shayari in Hindi

लाख बुराईयां में करे
ज़माना मेरी
पर जो एक लफ्ज़ भी
यार के खिलाफ सुन लिया
तो अच्छा नहीं होगा।

Dosti Shayari in Hindi

एक वक्त था जब
परिवार ने भी मेरी
बातों पर भरोसा करना
छोड़ दिया था
जमाना भी ताना मार था
मगर ए-दोस्त तूने मुझे
परखे बिना हरदम साथ दिया।

Dosti Shayari in Hindi

वो‌ भी क्या दिन थे
जब एक-दूसरे के कंधे पर
हाथ रखकर स्कूल जाया
करते थे।

Dosti Shayari in Hindi

तेरे बिना जीने का सवाल ही
पैदा नहीं होता है
जब बचपन साथ बिताया है
तो मरेंगे भी साथ में ही।

Dosti Shayari in Hindi

इस जिंदगी में और
दोस्तों-यारों की लिस्ट में
तेरा नाम सबसे ऊपर है
क्योंकि एक तू ही है जो
मेरा साथ मेरी औकात
देखकर नहीं देता है।

Dosti Shayari in Hindi

तेरे जैसा दोस्त हो
तो दुश्मन से लड़ने की
हिम्मत आ जाती है
और ये दुनिया तो बहुत छोटी है
तेरी यारी के आगे
तेरे लिए तो हम दुनिया से लड़ जाएंगे।

Dosti Shayari in Hindi

तू मेरा साथ तब था
जब मैं मंजिल पर पहुंचने की
तैयारी कर रहा था
अब मेरी कामयाबी पर हक भी
तेरा ही है, मिलकर ऊंचाई की
सीढ़ियां चढ़ेंगे।

मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता,
कुछ रिश्तों का कोई तोल नहीं होता,
लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर,
हर कोई आप की तरह अनमोल नहीं होता।

मुस्कुराना ही ख़ुशी नहीं होती,
उम्र बिताना ही ज़िन्दगी नहीं होती,
दोस्त को रोज याद करना पड़ता है,
दोस्ती कर लेना हीं दोस्ती नहीं होती।

तुम सदा मुस्कुराते रहो यह तमन्ना है हमारी,
हर दुआ में मांगी है बस खुशी तुम्हारी,
तुम सारी दुनिया को दोस्त बना कर देख लो,
फिर भी महसूस करोगे कमी हमारी।

गम को बेचकर खुशी खरीद लेंगे,
ख्वाबो को बेचकर जिन्दगी खरीद लेंगे ,
होगा इम्तहान तो देखेगी दुनिया,
खुद को बेचकर आपकी दोस्ती खरीद लेंगे।

गीत की जरुरत महफ़िल में होती है,
प्यार की जरुरत हर दिल में होती है,
बिना दोस्त के अधूरी है जिंदगी,
क्योंकि दोस्त की जरुरत हर पल में होती है।

दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करूँ,
आप भूल भी जाओ तो मैं हर पल याद करूँ,
खुदा ने बस इतना सिखाया हैं मुझे,
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करूँ।

दोस्ती दर्द नहीं खुशियों कि सौगात है,
किसी अपने का ज़िन्दगी भर का साथ है,
ये दिलो का वो खूबसूरत एहसास है,
जिसके दम से रोशन ये सारी कायनात है।

एक चिंगारी अंगार से कम नहीं होती,
सादगी श्रृंगार से कम नहीं होती,
ये तो अपनी-अपनी सोच का फर्क है,
वर्ना दोस्ती भी किसी प्यार से कम नहीं होती।

लाख बंदिशे लगा ले दुनिया हम पर,
मगर हम दिल पर काबू नहीं कर पाएंगे,
वो लम्हा आखिरी होगा ज़िन्दगी का हमारा,
जिस दिन हम यार तुझ को भूल जायेंगे।

हर पल की दोस्ती का इरादा है आपसे,
अपनापन ही कुछ ज्यादा है आपसे,
साथ रहेंगे आपके उम्र भर के लिए,
हमेशा दोस्ती निभाएंगे वादा है आपसे।

तुम्हारी दुनिया से जाने के बाद,
हम एक तारे में नजर आया करेंगे,
तुम हर पल कोई दुआ मांग लेना,
और हम हर पल टूट जाया करेंगे।

ज़िन्दगी नहीं हमे दोस्तों से प्यारी,
दोस्तों के लिए हाजिर है जान हमारी,
आँखों में हमारी आँसू है तो क्या,
खुदा से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी।

जीने की उसने हमें नयी अदा दी है,
खुश रहने की उसने हमें दुआ दी है,
ऐ खुदा उसको खुशियाँ तमाम देना,
जिसने अपने दिल में हमें जगह दी है।

लाखों की हँसी तुम्हारे नाम कर देंगे,
हर खुशी तुम पर कुर्बान कर देंगे,
जिस दिन हो कमी मेरी दोस्ती में बता देना,
उस दिन ज़िन्दगी को आखिरी सलाम कह देंगे।

कुछ तो बात है तेरी फितरत में ऐ दोस्त,
तूझे याद करने की खता हम बार बार न करते।

दोस्तों से बिछड़ के यह एहसास हुआ, ग़ालिब,
थे तो कमीने लेकिन रौनक भी उन्ही से थी।

उम्मीद ऐसी हो जो जीने को मजबूर करे,
राह ऐसी हो जो चलने को मजबूर करे,
महक कम न हो कभी अपनी दोस्ती की,
दोस्ती ऐसी हो जो मिलने को मजबूर करे।

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे,
तुम्हे भूल कर जियूं ये खुदा न करे,
रहे तेरी दोस्ती मेरी ज़िन्दगी बन कर,
ये बात और है ज़िन्दगी वफ़ा न करे।

जब आपकी पलकों पर रह जाये कोई,
आपकी साँसों पर नाम लिख जाये कोई,
चलो वादा रहा भूल जाना हमें,
अगर हमसे अच्छा दोस्त मिल जाये कोई।

दोस्त ज़िन्दगी का चाँद होता है,
दिल ज़मीन का आसमान होता है,
बदनसीब वो होते हैं जिनका कोई दोस्त नहीं,
क्योंकि दोस्त तो धड़कते दिल की जान होता है।

तन्हाई सी थी दुनिया की भीड़ में,
सोचा कोई अपना नहीं तकदीर में,
एक दिन जब दोस्ती की आपसे तो यूँ लगा,
कुछ ख़ास था मेरे हाथ की लकीर में।

लोग कहते हैं ज़मीन पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन्हें दोस्त कोई तुम सा नहीं मिलता,
किस्मत वालों को ही मिलती है पनाह किसी के दिल में,
यूँ हर शख्स को तो जन्नत का पता नहीं मिलता।

हर खुशी से खूबसूरत तेरी शाम कर दूँ,
अपना प्यार और दोस्ती तेरे नाम कर दूँ,
मिल जाये अगर दोबारा ये ज़िन्दगी ऐ दोस्त,
हर बार ये ज़िन्दगी तुझ पे कुर्बान कर दूँ।

जिक्र हुआ जब खुदा की रहमतों का,
हमने खुद को खुश नसीब पाया,
तमन्ना थी एक प्यारे से दोस्त की,
खुदा खुद दोस्त बनकर चला आया।

कुछ गैर ऐसे मिले, जो मुझे अपना बना गए,
कुछ अपने ऐसे निकले, जो गैर का मतलब बता गए।

Leave a Comment

Essays in Hindi
Copy link